". how to increase good cholesterol level in body Skip to main content

Flipkart is offering greatest markdown on Apple iPhone 12 yet! Check how to snatch offer

  image source - google | image by | - digit.in You can also use card discounts and cashback offers to make your Apple iPhone 12 purchase on Flipkart more affordable and rewarding.    New Delhi: Amazon and Flipkart are raining tons of offers in categories such as smartphones, consumer electronics, clothing and home decor, among others, with their ongoing sales. However, one of the best offers that Flipkart is currently offering is on Apple iPhone 12.  The Walmart-owned ecommerce company is offering a massive discount on Apple’s flagship smartphone’s 64GB variant which was launched at Rs 79,900 in India. With a discount of Rs 11,901, iPhone 12 is currently selling at Rs 67,999 on Flipkart   Notably, this is the biggest discount ever offered by any retailer on Apple iPhone 12. Previously, online retailers were selling the device with a discount worth up to Rs 9000. Customers can also avail an impressive discount on the purchase of the iPhone 12’s 128GB variant. During Flipkart’

how to increase good cholesterol level in body

 

image soure - google | image by -| - rebootwithnature

Cholesterol Control: Nowadays, due to the deteriorating lifestyle, people have started facing many problems. Cholesterol level also increases by eating more oily spice food. Which can lead to serious diseases like heart attack and stroke. For this it is most important that you keep cholesterol under control. There are two types of cholesterol in our body, good and bad. HDL is called 'good cholesterol' and LDL is called 'bad cholesterol'. Good cholesterol in the body is good for our heart. In such a situation, you should increase the good cholesterol in your body. Good cholesterol reduces the extra fat from the blood and helps in keeping the arteries clean. Our body makes good cholesterol on its own. However, for this our lifestyle should be healthy. Know how you can increase the amount of good cholesterol in the body.

1-Take out the sugar - By eating an excessive amount of sugar, awful cholesterol begins expanding and the degree of good cholesterol begins diminishing. Subsequently, to expand the great cholesterol in the body, stay away from sweet things. You can take regular sugar from leafy foods.

2-Exercise is necessary -  Exercise is vital to build great cholesterol in the body. You should practice for thirty minutes consistently. You can work out by strolling, running, running, swimming, or going to the rec center.

3-Less processed food -  Assuming great cholesterol is diminishing in your body, you should surrender the propensity for smoking, drinking. Both these things increment the awful cholesterol in the body. Surrender these two propensities as quickly as time permits.

4-Quit smoking and alcohol - With expanding corpulence in the body, numerous sorts of sicknesses start. In such a circumstance, on the off chance that your weight builds, terrible cholesterol likewise begins expanding. To build great cholesterol, you should control your weight. Eat food sources wealthy in fiber and protein.

5- Keep weight control -  You ought to dispense with handled food from your eating routine to expand the great cholesterol in the body. They contain a great deal of trans fat and immersed fat, which builds awful cholesterol.

 

 

Comments

Popular posts from this blog

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाए

इम्‍युनिटि जो कि शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है अर्थात शरीर में रोगो से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है जिसको हम रोग प्रतिरोधक क्षमता या प्रतिरक्षा कहा जाता है ये किसी भी प्रकार के सूक्ष्‍मजीव जैसे – रोगो को पैदा करने वाले वायरस , बैक्‍टीरिया   आदि , से शरीर को लड़ने की क्षमता देते है ,  ये ही हमारे शरीर को रोगो से लड़ने की शक्ति देती है । शोधकर्ताओं का मनना है की शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में कुछ भोज्‍य पदार्थ बहुत अच्‍छे होते है ताजे फल और सब्जियों में काफी मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट होते है जो शरीर को अनेक बीमारियों से बचाये रहते है। शोधकर्ताओं का एैसा मानना है की आहार , व्‍यायाम , उम्र मानसिक तनाव का भी शरीर की प्रतिरोधक क्षमता पर प्रभाव पड़ता है सामान्‍य तौर पर रोग प्रतिरोधक क्षमता को अच्‍छा तथा एक स्‍वस्‍थ्‍य जीवन शैली को बनाये रखने के लिये एक अच्‍छा तरीका है आज इस लेख के माध्‍यम से हम विभिन्‍न भोज्‍य पदार्थो से इम्‍युनिटि को अच्‍छा रखने जानकारी दे रहे है।   स्‍वस्‍थ्‍य जीवन शैली से इम्‍युनिटि को बढ़ाऐं –   इम्‍युनिटि को अपने शरीर में अच्‍छा रखने के ल

मां सिद्धिदात्री की कथा

  मां सिद्धिदात्री – नवरात्रि के पावन अवसर पर मां आदि शक्ति की सिद्धि दात्री रूप की उपासना की जाती है   मां की उपासना से सभी सिद्धियां तथा तथा सभी सुखो की प्राप्ति होती है। नवरात्रि के नवे मां आदि शक्ति के सिद्धिदात्रि स्‍वरूप की उपासना की जाती है ये सभी प्रकार की सिद्धि देने वाली होती है नवरात्रि के नवे दिन इनकी पूर्ण शास्‍त्रीय विधान से पूजा करने पर पूर्ण निष्‍ठा के साथ पूजा करने पर साधक को सभी प्रकार की सिद्धि प्राप्‍त होती है साधक के लिए ब्रम्‍हाण्‍ड में कुछ भी असाध्‍य नहीं रह जाता है ब्रम्‍हाण्‍ड पूर्ण विजय प्राप्त करने की सामार्थ्‍य उसमें आ जाती है।   मार्कण्‍डेय पूराण के अनुसार अणिमा   महिमा   गरिमा   लघिमा   प्राप्ति   प्राकाम्‍य ईशित्‍व   और वशित्‍व   ये आठ प्रकार की सिद्धियां होती हैं।   ब्रम्‍हवैवर्तपुराण के अनुसार श्री कृष्‍ण जन्‍म खण्‍ड में इनकी संख्‍या अठारह बताई गई है 1 . अणिमा   2 . लघिमा   3 . प्राप्ति   4 . प्राकाम्‍य   5 . महिमा   6 .   ईशित्‍व , वाशित्‍व   7 .   सर्वकामावसायिता   8 .   सर्वज्ञत्‍व   9 .   दूरश्रवण   10 .   परकायप्रवेशन 11 .   वाक्सि

मां शैलपुत्री की कथा 2020

      मां शैलपुत्री की कथा  नवरात्रि के पावन पर्व में प्रथम दिन  मां शैलपुत्री की कथा www.jankarimy.com जगदम्‍बेश्‍वरी आदि शक्ति के प्रथम स्‍वरूप की कथा जो शैलपुत्री के रूप में जाना जाता है मॉं के ध्‍यान और उपासना सभी कस्‍टो का अंत और पुन्‍य का उदय होता है शास्‍त्रो के अनुसार नवरात्रि में मॉं के अलग अलग स्‍वरूपो की पूजा की जाति है प्रथम दिन मॉं शैल पुत्री की पूजा की जाति है मॉं शैलपुत्री की कथा इस प्रकार एक बाद सति जी के पिता दक्ष ने यज्ञ किया उसमें उन्‍होने सभी देवी ओर देवताओं को आमंत्रण दिया लेकिन शिव जी को कोई निमंत्रण नहीं दिया गया क्‍योंकि दक्ष शिव जी किसी कारण वश ईर्शा रखते थे।   सति जी और शिव जी कैलाश में बैठे थे तब उन्‍होने देवताओं के विमानो को जाते हुऐ देखा उन्‍होने शिव जी से पूछा की ये सब कहा जा रहे है शिव जी ने बताया की आपके पिता ने यज्ञ का आयोजन किया हुआ है ये सब उसी यज्ञ में अपना भाग लेने जा रहे है सति जी ने कहा की हमें भी चलना चाहिये तब शिव जी ने बोला की आपके पिता मुझसे बैर मानते है और उन्‍होने हमें आमंत्रित भी नहीं किया हमें वहॉं नहीं जाना चाहिए ,    पर सति ज